सियासी हल्के में पहुंची मिल्कीपुर एसडीएम के थप्पड़ की गूंज, कार्रवाई व जांच नहीं हुई तो राज्यपाल से करेंगे शिकायत : अवधेश प्रसाद

अयोध्या। मिल्कीपुर तहसील में मास्क के लिए वादकारी को थप्पड़ मारने का मामला सियासी होते जा रहा है। पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद ने चेतावनी दी है कि यदि मामले की उच्चस्तरीय जांच व एसडीएम पर कार्रवाई नही हुई तो राज्यपाल से मिलकर शिकायत की जाएगी।
मंगलवार को एक होटल में प्रेस कांफ्रेस कर पूर्व मंत्री व सपा के राष्ट्रीय सचिव अवधेश प्रसाद ने आरोप लगाया कि जन विरोधी नीतियों से जनता त्रस्त है।




एसडीएम मिल्कीपुर की कार्यशैली को लेकर वहां के अधिवक्ता न्यायिक कार्य से विरत हैं। एसडीएम ने सोमवार को मिल्कीपुर क्षेत्र के बसवारी खुर्द के वादकारी को इस लिए थप्पड़ मार दिया कि मास्क नही लगाया था। जबकि हकीकत यह कि पीड़ित गांव का रहने वाला है। गमछा रखा था व रुमाल भी लिए था। अपने अधिवक्ता के सेड में बैठकर अधिवक्ता के आने का इंतजार कर रहा था।

ALSO READ :   भारत के बाद अमेरिका में खुफिया डाटा चोरी के कारण बैन हुआ टिकटॉक

इतना ही नहीं मारने के बाद 500 रुपये का चालान भी काट दिया। एसडीएम की कार्यशैली से पहले भी लोग परेशान थे। अब विरोध में अधिवक्ताओं ने कार्य ही ठप कर दिया है। इसी तरह कुमारगंज वन क्षेत्र में तेंदुआ देखे जाने से दहशत है। मवेशी व जानवरों पर हमला कर रहा। वन विभाग फिशिंग केट बता रहा है। यदि फिशिंग कैट ही हमलावर है तो उसे पकड़ा जाना चाहिए।




परन्तु योगी सरकार के अधिकारी बेपरवाह बने हुए हैं। नई सरकारी नोकरी में 5 वर्ष संविदा पर तैनाती मामले को आड़े हाथों लेते हुए सरकार के इस नीति की कड़ी निंदा की। कहा कि ऐसी नीतियों से युवा परेशान होगा ही अनिश्चितता का माहौल बनेगा। जिसका सीधा असर जन कार्यों पर पड़ेगा। प्रेस वार्ता के दौरान सपा जिलाध्यक्ष गंगा सिंह यादव, छोटेलाल यादव आदि भी मौजूद थे।

ALSO READ :   बिल्डिंग में लगी आग तो बच्चे ने लगा दी 40 फीट ऊपर से छलांग, दिल दहला देने वाला Video हुआ वायरल