BJP विधायक बोले- धर्म विशेष के लोग बढ़ा रहे जनसंख्या, ओवैसी के MLA का पलटवार

पटना. बिहार की बढ़ती जनसंख्या को लेकर सत्तारूढ पार्टी यानी बीजेपी (BJP) के विधायक ने विवादास्पद बयान दिया है. मंगलवार को जहां बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) के अंदर नीतीश कुमार बोल रहे थे कि बिहार में प्रजनन दर घटा है, लेकिन उन्हीं की सहयोगी पार्टी भाजपा के एक विधायक को उनकी बात नागवार गुजरी. भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर (BJP MLA Hari Bhushan Thakur) ने NEWS 18 से बातचीत में कहा कि हां प्रजनन दर तो घटा है, लेकिन सिर्फ हिंदुओं का परंतु एक धर्म विशेष यानी मुस्लिम समुदाय के लोगों की आबादी तेजी से बढ़ रही है और उनकी योजना है कि बिहार सहित पूरे देश का इस्लामीकरण कर दिया जाए. इस पर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM के नेता ने पलटवार करते हुए विवादास्‍पद बयान दे डाला.




ALSO READ :   COVID-19: भारत में मिला कोरोना का नया स्‍ट्रेन हो सकता है कहीं ज्यादा संक्रामक- AIIMS प्रमुख डॉ. गुलेरिया

भाजपा विधायक ने यह भी कहा दिया कि हम बिहार में इसे होने नहीं देंगे. बिहार विधानसभा के इसी सत्र में जनसंख्या नियंत्रण क़ानून लागू करने की मांग पूरी मजबूती से उठाएंगे. हरि भूषण ठाकुर कहते हैं कि एक धर्म विशेष के लोगों की सोच है कि जनसंख्या बढ़ा कर अल्पसंख्यक से बहुसंख्यक बन जाएं. संसाधन की एक सीमा है, लेकिन जनसंख्या की नहीं. विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री को अधिकारियों ने ग़लत जानकारी दी है. उन्हें सही आंकड़ा नहीं दिया गया है. गांवों में हम जाते हैं तो नसबंदी केंद्रो पर अधिकांश लोग हिंदू ही नजर आते हैं, मुस्लिम समुदाय के लोग न के बराबर नज़र आते हैं.




भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर बचौल के बयान पर AIMIM विधायक अखतरूल ईमान नाराज हो गए. उन्होंने नाराजगी भरे लहजे में विवादास्पद बयान दिया और कहा कि आबादी बढ़ाना मर्दानगी का काम है, जिसमें है वो बढ़ाए. आबादी कभी नुकसान नहीं करती. ईमान ने कहा कि हिंदुस्तान बहुत बड़ा मुल्क है. यहां सबको जीने की आजादी है. अगर सदन के अंदर जनसंख्या नियंत्रण कानून पहले लाए तो तब हम जवाब देंगे कि क्या करना है. उन्‍होंने कहा कि यह बिहार में सम्भव नहीं है. कुछ लोग फिरक़ापरस्त हैं जो माहौल को खराब करना चाहते हैं, लेकिन यह सम्भव नहीं है.

इस मसले पर जब पत्रकारों ने नीतीश कुमार से सवाल किया गया तो वो बोले कि मैंने नहीं सुना कि किसने क्या कहा, लेकिन हमने तो बिहार में जनसंख्या नियंत्रण के लिए बहुत काम शुरू किया है और उसका फायदा भी दिख रहा है.