UP: बरेली से गिरफ्तार हुआ हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड का आरोपी

लखनऊ. हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी हत्‍याकांड (Kamlesh Tiwari Murder Case) में लखनऊ पुलिस ने सोमवार देर रात एक बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने बरेली (Bareilly) से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपी कामरान को लखनऊ के नाका थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया. पुलिस के मुताबिक बरेली के शाहाबाद निवासी कामरान पर सूरत से गिरफ्तार आरोपियों की मदद करने का आरोप है.

ALSO READ :   यूपी में SHO को कुर्सी से हटाकर भाजपा विधायक खुद बना थानेदार, वीडियो वायरल होने पर हुई किरकिरी

उसके खिलाफ गुंडा और गैंगस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. बताया जा रहा है कि पुलिस ने कामरान के अलावा एक अन्य आरोपी कैफी अली को भी पकड़ा था. लेकिन उसकी गिरफ्तारी पर रोक का कोर्ट का आदेश होने के कारण पुलिस को उसे छोड़ना पड़ा.




बता दें कि हिन्‍दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्‍याकांड मामले में उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने 13 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया था. आरोपियों में से अशरफ और मोइनुद्दीन पर हत्‍या का आरोप है. गौरतलब है कि हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की पिछले साल 18 अक्टूबर को उनके घर में ही स्थित कार्यालय में निर्मम हत्या कर दी गई थी.

गुजरात से पकड़े गए थे अशरफ और मोइनुद्दीन
इससे पहले यूपी ATS ने अशरफ और मोइनुद्दीन को गुजरात-राजस्‍थान की सीमा से गिरफ्तार किया था. उस वक्‍त पुलिस अधिकारियों ने बताया था कि दोनों हत्‍याकांड की घटना के बाद से ही फरार चल रहे थे. जानकारी के मुताबिक, इन्‍हें शामलाजी के पास से दबोचा गया था.




ALSO READ :   दिल्ली के cM केजरीवाल ने 48 हजार झुग्गीवासियों से कहा नहीं उजड़ने दूंगा किसी को, मिलेगा पक्का मकान

चाकू से किए गए थे 15 वार
कमलेश तिवरी की पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट में दिल दहला देने वाली जानकारी सामने आई थी. इसके मुताबिक, हत्‍यारों ने कमलेश तिवारी पर 15 बार चाकुओं से वार किया था. इसके अलावा गला रेतने और गोली मारने का भी खुलासा हुआ था. मालूम हो कि कमलेश तिवारी के सीने और जबड़े पर चाकुओं से वार के साथ ही गला रेतने की बात भी सामने आई थी. इसे अलावा कमलेश तिवारी की पीठ पर भी चाकुओं से वार के निशान पाए गए थे.

ALSO READ :   धन्नीपुर के हॉस्पिटल में होगा गंभीर रोगों का इलाज