Coronavirus Cases Live: राजस्थान और यूपी में कोरोना हुआ घातक, दूसरी लहर में पांच गुना बढ़े मामले

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। बीते 24 घंटे में देश में 3.86 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं और 3500 से ज्यादा लोगों ने इस खतरनाक वायरस के आगे अपना दम तोड़ा है। ऑक्सीजन की कमी से कई जिलों में मरीजों की मौतों का आंकड़ा सामने आया लेकिन भारत में आपदा फैलने के बाद से कई देश मदद के लिए सामने आए हैं। सिंगापुर, सऊदी अरब, अमेरिका, कनाडा समेत कई देशों की ओर से भारत की मदद की घोषणा की जा चुकी है। इधर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर सुझाव दिया है कि वो 18-44 साल के बीच प्राथमिकता तय करें। इधर त्रिपुरा सरकार ने एलान किया है कि अगरतला में 31 मई तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा।

ALSO READ :   बॉडी में ऑक्‍सीजन लेवल ठीक रखने के लिए फेफड़ों को ऐसे रखें स्वस्थ, इन चीजों का करें सेवन






कोरोना की दूसरी लहर कई राज्यों के लिए घातक
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार कोरोना की दूसरी लहर कई राज्यों में घातक साबित हो रही है। जहां यूपी और राजस्थान में पहली लहर की तुलना में पांच गुना मामले बढ़ गए हैं वहीं छत्तीसगढ़ में 4.5 गुना और दिल्ली में 3.3 गुना है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना के मामले में इस तरह की बेतहाशा वृद्धि ने स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे पर भारी दबाव डाल दिया है।




ALSO READ :   इफ़्तार करने के बाद आपको भी हो जाती है एसिडिटी? इन घरेलू उपायों से पाएं निजात

8593 मीट्रिक टन ऑक्सीजन 23 राज्यों को उपलब्ध कराई: स्वास्थ्य मंत्रालय
ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हम मेडिकल ऑक्सीजन की उपलब्धता और सप्लाई पर काम कर रहे हैं। हमने 8593 मीट्रिक टन ऑक्सीजन 23 राज्यों को उपलब्ध कराई है। इसके साथ ही 1,27,000 नए ऑक्सीजन सिलेंडरों का ऑर्डर किया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगे कहा कि अप्रैल में देश में मामलों में अचानक बढ़ोतरी हुई है। दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, झारखंड, पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश और गुजरात में थोड़ी अधिक संख्या में मौत दर्ज़ की जा रही हैं। इसके चलते हम इन राज्यों के साथ संपर्क कर रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को निजी अस्पतालों सहित सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की खपत का ऑडिट करने की भी सलाह दी है।