दो दुकानों के लाइसेंस निरस्त, 22 नमूने भी लिए

अयोध्या। कालाबाजारी रोकने को डीएम द्वारा गठित अफसरों की टीम ने मंगलवार को जिले की खाद व कीटनाशक की दुकानों पर छापा मारा। इस दौरान तमाम अनियमितताएं मिलीं। दो संचालक तो प्रतिष्ठान बंद कर गायब हो गए। ऐसे में दोनों दुकानों के लाइसेंस निरस्त कर दिए गए। मुआयने में टीम ने 22 संदिग्ध उर्वरक व सात कीटनाशक के सैंपल लिए। सभी नमूनों को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है।




शासन ने उर्वरक व कीटनाशक की कालाबाजारी के लिए जिलों में छापामारी के निर्देश दिए। मंगलवार को डीएम स्तर से गठित अफसरों की टीमों ने जिले में 42 प्रतिष्ठानों पर छापा मारा। कृषि अधिकारी के मुताबिक जिले में 42 उर्वरक व कीटनाशक दुकानों पर छापा मारा गया।

ALSO READ :   लॉकडाउन के बाद पहले समाधान दिवस में लेखपालों पर गिरी गाज

दो दुकानों के संचालक अपने प्रतिष्ठान बंद कर गायब मिले। इस पर आशा कुसुम एग्री क्लीनिक बिजनेस केंद्र मसौधा व साधन सहकारी समिति कैल भदरसा के लाइसेंस निरस्त कर दिए गए। चेकिंग में 22 संदिग्ध उर्वरक के नमूने व 7 कृषि रक्षा रसायन के नमूने लिए गए।



ALSO READ :   अयोध्या : जिला अस्पताल के सर्जन समेत 97 हुए संक्रमित
ALSO READ :   DSM Lions Public School की छात्राओ ने मारी बाज़ी, चेल्सी पटेल बनी स्कूल टॉपर, CBSE बोर्ड 10 का परिणाम घोषित
ALSO READ :   अयोध्या : दिल्ली से आए दंपती सहित छह और मिले कोरोना पॉजिटिव
ALSO READ :   अजित पवार को सिंचाई घोटाले में क्लीनचिट, शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस ने SC में दी चुनौती